जापान ने जब चुपके से US पर किया था हमला - Pearl Harbor Attack

अमेरिका के हवाई द्वीप में पर्ल हार्बर पर हुए जापानी हमले को 74 साल पूरे हो गए हैं। 7 दिसंबर, 1941 यानी आज ही के दिन सेकंड वर्ल्ड वॉर के दौरान जापानी एयरफोर्स ने चुपके से अमेरिका पर हमला बोला था। इस हमले में लगभग 2,500 अमेरिकी मारे गए थे। वहीं 18 नेवल शिप तबाह हो गए थे।




फ्लैशबैक
- 7 दिसंबर, 1941 की सुबह। जापानी बॉम्बर्स ने पर्ल हार्बर स्थित यूएस नेवल बेस पर बिना चेतावनी कार्पेट बॉम्बिंग कर दी।




- हमले में अमेरिका के आठ में से छह जंगी जहाज, क्रूजर, डिस्ट्रॉयर समेत 200 से ज्यादा एयरक्राफ्ट्स तबाह हो गए।



- जापानी एयरफोर्स की ओर से एकदम से हुए इस हमले में 2,403 अमेरिकी सैनिक मारे गए। वहीं 1,178 जख्मी हुए थे।


ऐसे दिया था हमलों को अंजाम
- जापान ने दो फेज में हमले किए थे। इसके लिए उसने फाइटर जेट्स, बॉम्बर्स और टारपीडो मिसाइल्स का इस्तेमाल किया था।



- कमांडर मिस्तुओ फुचिदा के नेतृत्व में 183 फाइटर जेट्स ने ओहियो के ईस्ट में तैनात जापान के छह जंगी जहाजों से उड़ान भरी।



- इसके बाद लेफ्टिनेंट कमांडर शिगेकाजू शिमाजाकी के नेतृत्व में 171 फाइटर जेट्स ने पर्ल हार्बर को टारगेट किया।


क्या था डिप्लोमेटिक बैकग्राउंड?
- जापान ने यूएस पेसिफिक फ्लीट (बेड़े) को बेअसर करने का इरादे से पर्ल हार्बर पर हमला किया था।




- इसी बमबारी के साथ जापान ने अमेरिका और ब्रिटेन के खिलाफ जंग का एलान कर दिया।

फिर जो हुआ, वह इतिहास में दर्ज हो गया




- अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति फ्रैंकलिन डी रूजवेल्ट ने 7 दिसंबर, 1941 को 'कलंक का दिन' कहा।





- हमले के दूसरे ही दिन 8 दिसंबर, 1941 को अमेरिका भी सेकंड वर्ल्ड वॉर में कूद पड़ा। उसने भी जापान के खिलाफ जंग का एलान कर दिया।



- जापान को इसका अंजाम हिरोशिमा और नागासाकी पर 'एटम बम' अटैक के रूप में भुगतना पड़ा।







जापान ने जब चुपके से US पर किया था हमला - Pearl Harbor Attack जापान ने जब चुपके से US पर किया था हमला - Pearl Harbor Attack Reviewed by Menariya India on 11:45 PM Rating: 5