जाने 33 फैक्ट्स भारतीय जल सेना के बारेमे - विश्व की सर्वश्रेष्ठ सेनाओं में शुमार है

किसी भी देश की बाहरी सुरक्षा वहां की सेना करती है. हमारे भारत की अगर बात की जाये, तो यहां भी सेना की अहम भूमिका को नकारा नहीं जा सकता. भारत के पास तीन सेनाएं हैं. वायु सेना, थल सेना और जल सेना. इन तीनों का कार्यक्षेत्र अलग-अलग होता है. किसी के भी काम को कम ज़्यादा नहीं आंका जा सकता.




इस लेख में हम आज भारतीय जल सेना के बारे में 33 ऐसी बातें बताने जा रहें हैं जो आपको पता नहीं होंगी.

1. इंडियन नेवी की स्थापना 1830 में हुई थी. उस समय भारत में ब्रिटिश शासन था.





2. 1946 में इंडियन नेवी के अंदर ब्रिटिश पुलिस के खिलाफ़ विद्रोह पैदा हो गया था.





3. 22 अप्रैल1958 को वॉइस एडमिरल राम दास खत्री को इंडियन नेवी का पहला भारतीय चीफ़ बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ.





4. 1961 में इंडियन नेवी ने पहला एक्शन गोआ से पुर्तगाल नेवी को हटाने के लिए उठाया. इसे ऑप्ररेशन विजय का नाम दिया गया.




5. 1971 में हुए हिंद-पाक युद्ध के दौरान भारतीय नेवी ने सर्वश्रेष्ठ प्रर्दशन किया.




6. 4 दिसंबर 1971 को इंडियन नेवी ने पाकिस्तान के हेड क्वार्टर पर आक्रमण किया था. हमला करके कराची बंदरगाह पर पड़े सारे पेट्रोल के बेरलों को तबाह कर दिया था. इस दिन को नेवी दिवस के रूप में भी मनाया जाता है.





7. अभी तक इंडियन नेवी तीन अंतरराष्ट्रीय ऑप्ररेशन्स को अंजाम दे चुकी है.





8. कारगिल युद्ध के दौरान इंडियन नेवी ने ऑप्ररेशन तलवार को अंजाम दे कर भारतीय सेना का साथ दिया.





9. इंडियन नेवी का पहला एयरक्रॉफ्ट आईएनएस विक्रांत था.





10. ये एम.एस कोहली हैं, जिनको 1965 में भारत का पहला माउंट एवरेस्ट अभियान चलाने का श्रेय जाता है.





11. पहला Permanent Commission लेने वाले डी.एन. मुखर्जी थे.





12. फ़िलहाल भारतीय जल सेना के पास 181 समुद्री जहाज, 213 एयरक्रॉफ्ट के साथ-साथ 58,350 सैनिकों का बल है.





13. इंडियन नेवी के पास दो विमान वाहक हैं: आईएनएस विराट और आईएनएस विक्रमआदित्य.





14. भारतीय जल सेना में 9 Destroyers, 15 Frigates, 1 Nuclear Powered Submarine के साथ-साथ 14 Conventionally Powered Submarines भी शामिल हैं.





15. एशिया की सबसे बड़ी नेवल अकेडमी INS Zamorin भारतीय जल सेना द्वारा ही चलाई जाती है.





16. जल सेना के कुछ हाथ हवा में भी हैं. इनके पास MiG 29 k है, जो खूफ़िया मिशन में काफ़ी सहायक रहता है.





17. MARCOS भारतीय जल सेना की कमांडो फोर्स है, जो अभी तक कई मिशन को अंजाम दे चुकी है. जिसमें 26/11 विशेष है.





18. इंडियन नेवी का Bramhos, Supersonic Technique से बना है.





19. इसरो ने नेवी के लिए अपना एक उपग्रह भी बनाया है. जिसका नाम GSAT-7 है.





20.इंडियन नेवी ने मानवता से संबंधी कई कदम उठाये हैं. लीबिया से भारतीयों को अपने-अपने घर पहुंचाने में इंडियन नेवी की भागीदारी रही है. इसको ऑप्ररेशन राहत का नाम दिया गया था.





21.इसके Logo में क्रास के बीच सत्यमेव जयते लिखा है.





22. इसके जहाज और पनडुब्बी अमूमन स्वदेशी ही होते हैं.





23. 2027 तक 150 जहाजों और 500 एयरक्रॉफ्ट्स को शामिल करने का लक्ष्य है.





24. स्वदेश निर्मित आईएनएस विक्रांत 2018 तक बन कर तैयार हो जायेगा.





25. और 2025 तक पहला सुपरस्पेशल तकनीक से निर्मित आईएनएस विशाल हमारे पास होगा.





26.Karwara में भारत का सबसे बड़ा नेवल कैंप है.





27. आने वाले 10 सालों में भारतीय जल सेना प्रत्येक वर्ष पांच समुद्री जहाजों को अधिकृत करेगा.





28. आज भी भारतीय जल सेना एशिया में सबसे शक्तिशाली सेना का रुतबा बरकरार रखे हुए हैं.





29. इंडियन नेवी अपने कमोर्टा जैसे जहाज को अत्याधुनिक तकनीक से लैस कर रही है.





30. प्रोजेक्ट-17A के तहत नेवी 7 शिवालक Frigates भी बनाने जा रही है.





31. भारत और इज़राइल दोनों मिल कर Barak-8 भी बना रहे हैं जो भारत के काफ़ी काम आने वाली है.





32. अपनी Submarine Strength को सुधारने के लिए नेवी लगातार प्रयासरत है.





33. इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब भारत और अमेरिका एक साथ मिलकर काम कर रहे हैं.



proud to be Indian 
source & copyright © : topyaps
जाने 33 फैक्ट्स भारतीय जल सेना के बारेमे - विश्व की सर्वश्रेष्ठ सेनाओं में शुमार है जाने 33  फैक्ट्स भारतीय जल सेना के बारेमे -  विश्व की सर्वश्रेष्ठ सेनाओं में शुमार है Reviewed by Menariya India on 12:46 AM Rating: 5