परिवार की संख्या 100 हो गई बेटे की चाह में, कब रुकेगा ये आंकड़ा...

भारत में लोग बेटे की चाह में पता नहीं क्या-क्या करते हैं. तरह-तरह की मन्नतें तो मानते ही हैं, इसके अलावा कई संतान पैदा करते हैं. कुछ इसी तरह का ही मामला गुजरात के दाहोद जिले के क्वाद गांव का है. लड़का पैदा करने की चाहत में एक परिवार के सदस्यों की संख्या 100 हो गई. जिसकी वजह से अब पूरे परिवार को कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है.



आइए आपको मिलवाते हैं इस अनोखे परिवार से जिनके बारे में जान कर आप भी हैरान हो जाएंगे-

1. परिवार के सबसे बुजुर्ग नरसिंह भभोर के 11 बच्चे हैं. जिनमें 5 लड़कियां हैं.

2. गांव वाले इस परिवार को अपने यहां शादी-विवाह या दूसरे कार्यक्रमों में भी नहीं बुलाते हैं.

3. रिश्तेदार भी इस परिवार से रिश्ता नहीं रखते हैं, कहते हैं कि हमें मेहमान चाहिए, बारात नहीं.

4. लड़का पैदा करने की चाहत अभी भी गई नहीं हैं. परिवार में अभी भी बच्चा पैदा करने का सिलसिला लगातार जारी है.

5. ये आंकड़ा कब रुकेगा ये तो भगवान ही जानता है, क्योंकि परिवारों के सदस्यों का तर्क है कि ये ऊपर वाले की ही देन है.




जनगणना आयोग के आंकडों पर गौर करें तो गुजरात में ऐसे 8 हजार परिवार हैं जिनमें 10 या उससे अधिक बच्चे हैं. इन लोगों को परिवार नियोजन के बारे में कोई जानकारी नहीं है. हालांकि अब कुछ स्वास्थ्य कर्मी इनको जानकारी दे रहे हैं.

Story and Image Source: timesofindia
Title : 100-members-in-a-family
परिवार की संख्या 100 हो गई बेटे की चाह में, कब रुकेगा ये आंकड़ा... परिवार की संख्या 100 हो गई बेटे की चाह में,  कब रुकेगा ये आंकड़ा... Reviewed by Menariya India on 11:37 PM Rating: 5