गुजरात की प्राचीन राजधानी रही पाटण में स्थित ‘रानी की वाव’ - हेरीटेज वीक विशेष

19 से 25 नवंबर के बीच सारा देश मिल कर हेरीटेज वीक मना रहा है. इस दौरान देश की तमाम हेरिटेज साइट्स एक बार फिर सुर्ख़ियों में होंगी. ऐसे में हम कैसे पीछे रह सकते हैं. इसी हेरिटेज वीक के अवसर पर आज हम आपको एक ऐसे ऐतिहासिक स्थल के बारे में बताने जा रहे हैं, जो ऐतिहासिक दृष्टि से एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है पर फिर भी लोग इससे अनजान हैं.



10-11वीं ई सदी में गुजरात की प्राचीन राजधानी रही पाटण में स्थित ‘रानी की वाव’ प्राचीन वास्तुकला की एक बेजोड़ निशानी है, जिसकी तारीफ़ को शब्दों में बांधा नहीं जा सकता. इसी वजह से इस बावली को यूनेस्को द्वारा 23 जून, 2014 को वर्ल्ड हेरिटेज साइट घोषित किया गया था.





आधुनिक इंजीनियरिंग के इस अद्भुत नमूने को देख कर कोई अंदाज़ा भी नहीं लगा सकता कि इसका निर्माण 10-11वीं सदी में सोलंकी राजवंश की रानी उदयमती द्वारा अपने पति भीमदेव सोलंकी की याद में करवाया गया था.






प्रेम का प्रतीक यह बावली इतिहास को अपने भीतर समेटे हुए है. गुजरात में सोलंकी वंश के संस्थापक भीमसेन ने वडनगर पर 1021-1063 ई. तक शासन किया था.




64 मीटर लंबी और 20 मीटर चौड़ी यह बावली 27 मीटर गहरी है पर देख-रेख के अभाव में इसकी ज्यादातर सीढ़ियां सरस्वती नदी के जल के कारण कीचड़ से भर गई हैं. इसके निर्माण में नक्काशीदार पत्थरों के साथ-साथ उकेरी गईं कलाकृतियां का भी प्रयोग किया गया है, जो कि सोलंकी वंश और उनके वास्तुकला के बारे में बताती हैं.




बावली की दीवारों और स्तंभों पर की गई अधिकतर नक्काशियां भगवान विष्णु के विभिन्न अवतारों जैसे राम, वामन और कल्कि को समर्पित हैं. प्राचीन काल में इस बावली की सात मंजिलें थीं, पर रख-रखाव के अभाव में अब इसकी केवल पांच मंजिल ही संरक्षित बची हैं.




इस बावली में बनी कलाकृतियां और मेहराबें टूट चुकी हैं पर फिर भी ये उस समय की वास्तुकला को दर्शाती हैं.




ऐसा कहा जाता है कि इस बावली में एक छोटा गुप्त दरवाज़ा भी है जहां से 30 किलोमीटर की लम्बी सुरंग निकलती है, जो किसी हमले के दौरान राजा-रानी को सुरक्षित निकालने लिए प्रयोग की जाती थी.

गुजरात की प्राचीन राजधानी रही पाटण में स्थित ‘रानी की वाव’ - हेरीटेज वीक विशेष गुजरात की प्राचीन राजधानी रही पाटण में स्थित ‘रानी की वाव’ - हेरीटेज वीक विशेष Reviewed by Menariya India on 9:01 AM Rating: 5