हिन्दू धर्म विश्व का एक अति प्राचीन धर्म - जानिए हिन्दू धर्म को

हिन्दू धर्म भारत का प्रमुख धर्म है। हिन्दू या सनातन धर्म 4000 साल से भी पुराना माना जाता है। मान्यता है कि हिन्दू धर्म प्राचीन आर्य समाज के वेदों पर चलता हुआ विकसित हुआ है। इस धर्म को किसी व्यक्ति विशेष ने नहीं बल्कि समय ने बनाया और फैलाया है।



हिन्दू धर्म का इतिहास (History of Hinduism)

हिन्दू धर्म का उदय कब और कैसे हुआ इसकी सटीक जानकारी किसी को नहीं है। मान्यता है कि वेदों का अनुसरण करते हुए आर्यों ने ही हिन्दू धर्म को उसकी पहचान दिलाई। हिन्दू धर्म के पुरातन लेखों और तथ्यों से जाहिर होता है कि हिन्दू धर्म बेहद विकसित और समृद्ध था। सिंधु घाटी सभ्यता और अन्य कई पुरातन अध्ययनों से यह जाहिर हुआ है कि हिन्दू धर्म का उदय बेहद प्राचीन है।



वेदों पर आधारित धर्म (Religion based on the Vedas)

विश्व की प्रथम पुस्तक "वेदों " को माना गया है। वेदों के अस्तित्व को पूरे विश्व में मान्यता प्राप्त हैं। वेदों में सबसे प्राचीन "ऋग्वेद" को माना गया है। कई जानकार मानते हैं कि वेदों में लिखे नियमों और बातों का अनुसरन करके ही हिन्दू धर्म ने अपने नियम और मानदंड स्थापित किए हैं।


हिन्दू धर्म के इतिहास की मुख्य बातें (Important Facts of History of Hinduism)
1. भाषा: 

मान्यता है कि प्राचीन हिन्दू धर्म की मुख्य भाषा संस्कृत थी। 

2. समाज: 
प्राचीन हिन्दू समाज में राजा और प्रजा के रूप में विभाजित थी, जहां राजा प्रजा को संचालित करता था। 

3. देव: 
वेदों की मान्यतानुसार सनातन धर्म के मुख्य देव इन्द्र, वरुण, अग्नि और वायु देव हैं। 

4. तीन मुख्य संप्रदाय: 
सनातन हिन्दू धर्म मुख्यत: तीन संप्रदायों में बंटा था एक शैव जो शिव की पूजा करते थे। दूसरा वैष्णव जो विष्णुजी को अपना आराध्य मानते थे। और तीसरे शक्ति के उपासक थे। 

5. श्री आदि शंकराचार्य द्वारा धर्म की पुन: स्थापना: 
मान्यता है कि विभिन्न संप्रदायों में बंट जाने से जब सनातन धर्म कमजोर होने लगा तो आदि शंकराचार्य ने पूरे भारत का भ्रमण कर पुन: धर्म की स्थापना कर लोगों को जोड़ने का काम किया। 

6. अन्य संस्कृतियां: 
मान्यता है कि बौद्ध और जैन धर्म भी सनातन हिन्दू धर्म का ही एक अंग है।

Source : Wikipedia
हिन्दू धर्म विश्व का एक अति प्राचीन धर्म - जानिए हिन्दू धर्म को हिन्दू धर्म विश्व का एक अति प्राचीन धर्म - जानिए हिन्दू धर्म को Reviewed by Menariya India on 4:00 PM Rating: 5