इनकी हिम्मत और जज्बे को सलाम - शारीरिक कमियों के बावजूद बना दिया एक हवाई जहाज़

साजी थॉमस केरल के 'इडुक्की' जिले में बसे एक छोटे से गांव में रहते हैं गांव के लोग थॉमस को 'पोटेन' (मूर्ख) कह कर बुलाते थे असल में थॉमस जन्म से ही बहरे और गूंगे थे, अपनी शारीरिक कमियों के बावजूद भी थॉमस को बचपन से ही बेकार पड़ी चीजों के टुकड़ों को जोड़ कर कुछ नया बनाने की कोशिश करते रहते थे, उनकी इन्हीं हरकतों के कारण साथ के बच्चे भी उन्हें बेवकूफ़ कहते थे



थॉमस अब 45 साल के हो चुके हैं और उनकी ज़िंदगी भी बचपन के उन दिनों से काफ़ी आगे बढ़ गई है
उन्होंने 2 लोगों के बैठने की क्षमता वाले एक बेहद हल्के एयरक्राफ़्ट को न केवल डिज़ाइन किया, बल्कि उसे बनाया भी है खास बात यह कि उन्होंने इस एयरक्राफ़्ट को बेकार और रीसाइकल सामान से बनाया है इसी के चलते उनका नाम कई रिकॉर्ड बुक्स में आया है और सोमवार से शुरू हो रहे डिस्कवरी चैनल के HRX सुपरहीरोज कार्यक्रम में भी थॉमस को दिखाया जाएगा इस कार्यक्रम के एंकर हिंदी फिल्मों के प्रसिद्ध अभिनेता ऋतिक रोशन हैं


थॉमस द्वारा बनाए गए एयरक्राफ्ट का नाम 'Saji X Air-S' है तिरुवनंतपुरम स्थित रिटायर्ड विंग कमांडर एसकेजे नायर के फ्लाइट ट्रेनिंग अकादमी में थॉमस का एयरक्राफ्ट कई सफ़ल उड़ानें भर चुका है थॉमस का प्यार हवाई जहाज के लिए 15 साल की उम्र में तब और भी बढ़ गया था, जब उन्होंने अपने घर के पास स्थित 'रबर के बगीचे' में एक छोटे एयरक्राफ्ट को कीटनाशक का छिड़काव करते देखा था



थॉमस ने हिम्मत जुटाई और उस एयरक्राफ्ट के पायलटों से बात करने गए
 उनमें से एक पायलट ने बोलने में असमर्थ थॉमस को अपने मुंबई स्थित घर का पता लिख कर दिया कुछ महीने बाद थॉमस भाग कर मुंबई उस पते पर पहुंच गए उनकी लगन से प्रभावित होकर दोनों पायलटों ने थॉमस को उड़ान और एयरक्राफ्ट से संबंधित कुछ मैन्युअल पढ़ने को दिए और उन्हें छोटे-छोटे काम भी करने को दिए

थॉमस को एयरक्राफ्ट बनाने के लिए काफ़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ा था
 उन्हें इस सपने को पूरा करने के लिए अपनी जमीन भी बेचनी पड़ी थी थॉमस अब डीजीसीए (Directorate General of Civil Aviation) से एक लाइसेंस लेने की कोशिश कर रहे हैं जो कि उन्हें जुड़वां इंजन वाला एयरक्राफ्ट बनाने की अनुमति दे देगा वे एक एयरोनॉटिक मैकेनिक के तौर पर नौकरी भी तलाश कर रहे हैं

Source: timesofindia
Images Source: rediff

इनकी हिम्मत और जज्बे को सलाम - शारीरिक कमियों के बावजूद बना दिया एक हवाई जहाज़ इनकी  हिम्मत और जज्बे को सलाम - शारीरिक कमियों के बावजूद बना दिया एक हवाई जहाज़ Reviewed by Menariya India on 6:03 PM Rating: 5