दुनिया के 10 रहस्यमयी खुनी खजाने, जिनको खोजने में हो चुकी है हजारों लोगों की मौत

दुनियाभर में कई गुप्त और रहस्यमयी खजाने हैं, जिन्हें कोई नहीं ढूंढ पाया है। बावजूद इसके, लोगों की कोशिशें कम नहीं हुई हैं। इन खजानों में सोने, चांदी और कीमती जेवरात हैं। खास बात ये है कि लोग इन खजानों को ढूंढकर लोग जल्दी अमीर बनने का सपना देखते हैं। कई कंपनियां ऐसे खजाने को खोजने का काम करती है।


आज हम आपको बता रहे है दुनिया के ऐसे ही 10 रहस्यमयी खजानों के बारे में-


1. एल डोराडो का खजाना
एल डोराडो के खजाने की खोज में हजारों लोग अपनी जान गवां चुके हैं। कहा जाता है कि यह खजाना कोलंबिया की गुआटाविटा झील में दफन है। इस झील की पूरी तली में सोना फैला हुआ है। दरअसल, सैकड़ों साल पहले यहां के चिब्बा आदिवासी सूर्य की आराधना करते हुए बहुत सा सोना झील में फेंकते थे। कई सालों तक ऐसा करते रहने के कारण इस झील की तली में बड़ी मात्रा में सोना इकट्ठा हो गया था। इस खजाने को पाने के लिए स्पेनिश लुटेरे फ्रांसिस्को पिजारो ने भी बहुत कोशिश की, लेकिन नाकाम रहा। इसके अलावा प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान लगभग पूरा कोलंबिया ही इस खजाने की तलाश में रहा, लेकिन आज तक खजाना नहीं मिला।


2. काहुएंगा दर्रा का खजाना
इस खजाने का इतिहास बेहद दिलचस्प है। सन 1864 में मैक्सिको के राष्ट्रपति बेनिटो ने अपने कुछ सैनिकों के साथ खजाने को ‘सेन फ्रांसिस्को’ भेजा था। लेकिन, बीच रास्ते में गड़बड़ हो गई और एक सैनिक की मौत हो गई। बाकी के तीन सैनिकों ने खजाना रास्ते में ही जमीन में गाड़ दिया। कहा जाता है कि ऐसा करते हुए एक व्यक्ति डिएगो मोरेना ने उन्हें देख लिया। सैनिकों के जाने के बाद डिएगो ने उस खजाने को वहां से निकल कर पास ही पहाड़ी के ऊपर गाड़ दिया। लेकिन, उसी रात डिएगो की भी मृत्यु हो गई। अपनी मौत से पहले वो यह राज अपने दोस्त को बता गया। बाद में 1885 में बास्क शेफर्ड नामक एक व्यक्ति को इस खजाने का थोडा बहुत हिस्सा मिला। वह इस खजाने को स्पेन ले जा रहा था, तभी समुद्र में खजाना डूब गया। अब तक यह खजाना हाथ नहीं लग सका है।



3. इंका सभ्यता का खजाना
कहते है, जितना सोना अमेरिकी बैंक के पास है उससे कहीं ज्यादा सोना इंका लोगो के पास था। जो उन्होंने करीब 400 साल पहले स्पेनिश लुटेरे फ्रांसिस्को पिजारो से बचने के लिए वहीं के एक ज्वालामुखी की तलहटी में डाल दिया। इस खजाने की तलाश में अब तक कई लोग जान गंवा चुके हैं। लेकिन इसका पता नहीं चला है।



4. चंगेज खान का खजाना
चंगेज खान, मंगोल साम्राज्य का सबसे प्रसिद्ध और महान योद्धा था। जिसने उस समय के लगभग पूरे ज्ञात विश्व पर जीत दर्ज की। जब 1227 में इसकी मौत हुई, तो कहा जाता है की इसे एक अज्ञात मकबरे में छुपाया गया जिसमें उस समय के सबसे महान योद्धा के साथ उसका अथाह बेशकीमती खजाना भी रखा गया। हालांकि, माना जाता है कि इस खजाने की तलाश में जो भी गया, वह वापस नहीं आया।



5. लीओन त्रबुको का खजाना
साल 1930 में अमेरिका में मंदी का दौर चल रहा था और अमेरिकी सरकार को सोने की सख्त जरुरत थी। ऐसे में सोने के दाम आसमान छू रहे थे और उसी दौरान मैक्सिको में खरबपति व्यापारी लीओन त्रबुको ने न्यू मैक्सिको के रेगिस्तान के ऊपर कई बार उड़ानें भरीं। इस खरबपति व्यापारी ने अपने कई मित्रो के साथ मिलकर अवैध सोने का भण्डार इसी रेगिस्तान में कहीं छुपाया था जो लगभग 16 टन था और यह सब इसी उम्मीद में थे की जल्ही सोने के दाम और बढ़ेंगे और तब यह इस सोने की तस्करी के द्वारा अथाह पैसा कमाएंगे। लेकिन तभी अमेरिकी सरकार ने एक ऐतिहासिक बिल पास किया, जिसमें तय किया गया कि सोने का निजी मालिकाना हक समाप्त करा जाए। ऐसे में इस खजाने को राष्ट्रीय संपत्ति घोषित कर दिया गया। हलांकि, इस बिल को बाद में हटा लिया गया, लेकिन तब तक लीओन और उसके साथियों की मौत हो गई। इसके चलते खजाने का पता नहीं लग पाया।


6. ओक आइलैंड का गढ्ढा
1795 में ओक आइलैंड में कुछ बच्चों को नोवा स्कोटिया के पास एक छोटे से द्वीप पर कुछ रहस्यमयी रोशनी दिखी। जब बच्चे वहां, पहुंचे तो उन्हें एक ताजा काफी बड़ा खुदा हुआ गढ्ढा दिखा और जब उन बच्चों ने वहां और खुदाई की तो और अंदर उसमें नारियल के खोल, लकड़ी और एक पत्थर का टुकड़ा मिला। पत्थर के टुकड़े पर लिखा लिखा था चालीस फीट नीचे 2 मिलियन पाउंड दफन हैं। इस खजाने की बाद में कई लोगों ने खोज की। खुद अमेरिकी राष्ट्रपति फ्रेंक्लिन डेलानो रूजवेल्ट ने इस खजाने को ढूंढा। हालांकि, तब वह राष्ट्रपति नहीं थे। लेकिन अभी तक यह खजाना नहीं मिला है।



7. अपाचे लोगो का खजाना
इसके बारे में कहा जाता है की एक बार अपाचे लोगो ने सोने और चांदी के सिक्को से भरी हुई ट्रेन के एक डिब्बे पर धावा बोला और उसे लूट लिया। इस डिब्बे को एरिजोना में विंचेस्टर माउंटेन में कहीं छुपा दिया गया। अपाचे लोगो की इस डकैती के बारे में तब की कई रिपोर्टों में बाते दर्ज हैं।



8. द अंबेर रूम
द अंबेर रूम, सोने का बना एक कमरा नुमा चैम्बर था जिसका निर्माण 1707 में पर्शिया में हुआ था। द अंबेर रूम के अंदर पूरा काम सोने का था। इसे कुछ लोग विश्व का आठवां आश्चर्य भी कहते थे। यह रूस और पर्शिया के बीच शांति संधि के उत्सव के दौरान 1718 में पीटर द ग्रेट को गिफ्ट के तौर पर मिला था। तब से द अंबेर रूम रूस में ही था। पर द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान 1941 में नाजियों ने इस पर कब्जा कर लिया और इसे सुरक्षित करने के लिए अलग अलग भागों में बांट दिया। इन सभी टुकड़ों को 1943 में एक म्युजियम में प्रदर्शित किया गया। जहां से यह पूरा का पूरा द अंबेर रूम गायब हो गया। तब से इस खजाने का भी पता नहीं चला।



9. द लॉस्ट डचमैन माइन
एक सोने की खदान अमेरिका के साउथ वेस्टर्न इलाके में है। माना जाता है कि यह सुपरस्टीशन माउंटेन में कहीं है। यह ऐरिजोना में ईस्ट फोनिक्स के पास अपाचे जंक्शन के पास है। यहां की अपाचे जनजातियों (Apache tribes) के बीच यह मान्यता है कि उनका देवता किसी को भी इस खजाने के पास जाने नहीं देना चाहता। स्पेन के फ्रांसिस्को वास्क डी कोरोनाडो (1510-1524) ने जब इस खदान को खोजने की कोशिश की तो उसके लोगों की मौत होने लगी और उनकी लाशों से ढेर लग गए। 1845 में यहां डॉन मिगुएल पेराल्टा (Don Miguel Peralta) को कुछ सोना मिला लेकिन स्थानीय अपाचे आदिवासियों ने उसकी हत्या कर दी और उन्होंने सोने को पूरे इलाके में बिखेर दिया और खदान का प्रवेश द्वार नष्ट कर दिया। इस गोल्ड माइन की तलाश में तीन साल पहले डेनवर निवासी जेस केपेन (Jesse Capen) ने अभियान छेड़ा था, लेकिन 2012 में उसका सिर्फ शव मिला।



10. चार्ल्स आइलैंड का खजाना
अमेरिका में मिलफोर्ड के पास एक छोटा सा द्वीप है। इस द्वीप को श्रापित माना जाता है। मैक्सिको के सम्राट गुआजमोजिन ( Mexican Emporer Guatmozin) का धन 1721 में चोरी हो गया था और उसे यहां मल्लाहों ने छिपा दिया था। 1850 में यहां कुछ लोग खजाने की तलाश में पहुंचे, तो उनकी मौत हो गई। यहां पर आज तक किसी को खजाना नहीं मिल सका।
दुनिया के 10 रहस्यमयी खुनी खजाने, जिनको खोजने में हो चुकी है हजारों लोगों की मौत दुनिया के 10 रहस्यमयी खुनी खजाने, जिनको खोजने में हो चुकी है हजारों लोगों की मौत Reviewed by Menariya India on 9:18 PM Rating: 5