वन्यजीव फोटोग्राफर अवार्ड से सम्मानित कलाकृतियां

कहा जाता है कि एक फोटो दस हजार शब्दों के बराबर होती है। फोटोग्राफी एक कला है जिसमें विजुअल कमांड के साथ-साथ टेक्निकल नॉलेज भी जरूरी है। आज आपको कुछ ऐसी ही तस्वीरो से रूबरू कर रहे है जो वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफी का अद्भुत का उदाहरण है , 2013 के वन्यजीव फोटोग्राफर अवार्ड से सम्मानित कलाकृतियां

1. स्विट्ज़रलैंड के कोसेट गांव के पास अनाज की बाली को कुतरते इस चूहे की तस्वीर ली एटीनी फ़्रांसी ने. इस प्रतियोगिता की सौ चुनी हुई तस्वीरों की प्रदर्शनी भी लंदन में अक्तूबर में लगाई जाएगी.



2. रचनात्मक नज़रिए की कैटेगरी में पापात्सानि द्वारा ग्रीस में खींची गई इस मशरूम की तस्वीर को काफ़ी सराहना मिली.



3. बनारस में इंसानों के साथ बंदरों की संख्या भी पर्याप्त है. पुर्तगाल के फ़ोटोग्राफ़र मार्कोज़ सोब्राल ने इंसानों और बंदरों के सहअस्तित्व की यह अनूठी तस्वीर ली है.



4. हर साल सर्दियों के अंत में जब मेढक जमीन से बाहर आते हैं तो जर्मनी के सोल्विन ज़ैंकल इनकी तस्वीर लेने मैदानी हिस्सों में चले जाते हैं. इस बार वो जर्मनी के सोलिंग गए थे. ये तस्वीर वहीं की है.



5. स्तनपायी जीवों के व्यवहार की कैटेगरी में वाल्टर बर्नार्डशी की इस तस्वीर को काफ़ी सराहना मिली. हर साल जुलाई और सितंबर के बीच साल्मन नामक मछलियां दसियों लाख की संख्या में पैसिफ़िक की नदियों से साफ़ पानी वाली लेक कूरील की ओर जाती हैं.



6. रवांडा के वोल्कैनोज़ नेशनल पार्क में अपने दो बच्चों को लिए इस गोरिल्ला की तस्वीर के लिए डायना रेबमान को गेराल्ड ड्यूरेल पुरस्कार दिया गया. विलुप्तप्राय वन्यजीवों की तस्वीर के लिए उनकी सराहना भी की गई.



7. मिस्र में मरसा आलम की खाड़ी में पानी के नीचे अपना शिकार हज़म करते मध्यम आकार के स्तनपाई जीव डूगांग की तस्वीर अमरीका के डगलस सीफ़र्ट ने खींची है.




8. माइकल निकोल्स ने अफ़्रीकी शेरों की फ़ोटोग्राफ़ी करते कई महीने बिताए थे. वो बताते हैं कि ये शेर उनकी कार के इतने आदी हो गए थे कि वो एक साधारण ज़ूम लेंस वाले कैमरे से भी उनकी तस्वीरें ले लेते थे. अमरीकी फ़ोटोग्राफ़र निकोलस कहते हैं कि बारिश में ये शेर अपने या अपने साथी के शरीर से टपकती बूंदों को चाटते थे.



9. कोस्टा रिका के पैसिफ़िक तट पर कारकोवाडो नेशनल पार्क में जाने का केवल पानी या हवाई रास्ता ही है. मैक्सिको के फ़ोटोग्राफ़र अलेजांद्रो प्रीएटो को तट पर एक बुल शार्क की तलाश थी, तभी पानी से एक मगरमच्छ निकला और उसने एक कछुए को पकड़ लिया.



10. पोलैंड के वारसा में लूकास्ज़ बोत्स्की ने तलाब में मेढक की तस्वीर खींची है. वो कहते हैं कि बसंत का समय मेढकों के मैटिंग का समय होता है. उन्होंने मेढक की तस्वीर लेने के लिए एक टेलीफ़ोटो लेंस को फ़ोकस किया और सूरज ढलने तक इंतज़ार किया.



source : bbc
वन्यजीव फोटोग्राफर अवार्ड से सम्मानित कलाकृतियां वन्यजीव फोटोग्राफर अवार्ड से सम्मानित कलाकृतियां Reviewed by Menariya India on 2:51 PM Rating: 5