राजा भोज की नगरी - देखे खूबसूरत तस्वीरें

राजा भोज (1010-1050) जीवन के उत्तरार्द्ध में यहां सक्रिय रहे। बड़ा तालाब, भोजपुर समेत कई मंदिर और पुराना भोपाल उनकी ही देन है। नवाबी दौर 700 साल बाद आया। नई रिसर्च पुराने भोपाल से जुड़े कई रोचक तथ्य सामने ला रही हैं। खासकर चौक बाजार वाला इलाका। यह भाेज की मूल डिजाइन में शहर के बीच का हिस्सा था।

1. मोती महल- 
इकबाल मैदान के पश्चिम में स्थित यह भव्य भवन मोती महल कहलाता है। इसका निर्माण नवाब सिकंदर बेगम ने करवाया था।





2. कमलापति महल-


इस महल को रानी कमलापति ने बनवाया था। यह भवन बड़े तालाब के किनारे एक बांध पर बना है। कमलापति के जीवन को लेकर दिल को छूने वाली कहानियां प्रचलित हैं।


3. मिन्टो हाल-


इसका निर्माण नवाब सुल्तानजहां बेगम ने करवाया था। इसकी नींव भारत के तत्कालीन वायसराय लार्ड मिन्टो ने रखी थी। इमारत का डिजाइन जार्ज पंचम के मुकुट से प्रेरित था।


4. सदर मंजिल-


शाहजहां बेगम के बाद नवाब सुल्तानजहां बेगम ने इस भव्य भवन को रियासत के दरबार हॉल के रूप में परिवर्तित किया। भवन की पच्चीकारी में सुनहरी स्याही का इस्तेमाल किया गया है।


5. सेंट्रल लायब्रेरी-


लाल पत्थरों से बने इस भवन का निर्माण नवाब सुल्तानजहां बेगम ने किंग एडवर्ड म्यूजियम के रूप में किया था। इसका उद्घाटन तत्कालीन वायसराय लार्ड मिन्टो ने किया था।


6. गोलघर-


परी बाजार(शिरीं बाजार) के पास बनी इस इमारत को गोलघर कहा जाता है। नवाब शाहजहां बेगम के शासन काल में इसे 'चिड़ियाघर' के रूप में तैयार किया गया था।
Copyright © Bhaskar, All Rights Reserved. 
राजा भोज की नगरी - देखे खूबसूरत तस्वीरें राजा भोज की नगरी - देखे खूबसूरत तस्वीरें Reviewed by Menariya India on 5:36 PM Rating: 5