10 सालों से जानवरों जैसी जिंदगी जी रहा यह शख्‍स

सिमडेगा (गुमला, झारखंड)अनुमंडल के सेवई पंचायत स्थित जुमरा टोली गांव में पिछले 10 साल से एक इंसान जानवरों जैसी जिंदगी जीने को मजबूर है. बाकायदा ये इंसान अब जानवरों जैसी हरकतें करने लगा है. उसके घर वाले उसे एक रस्सी बांधकर उसे खाना खिला रहे हैं.


पिछले 10 सालों से जानवरों जैसी जिंदगी जी रहा शशिकान्त

सिमडेगा अनुमण्डल के सेवई पंचायत स्थित जुमरा टोली गांव का रहने वाला पढ़ा लिखा शशिकान्त किंडों पिछले 10 वर्षों से जानवरों जैसी जिंदगी जी रहा है.

शशिकान्त के भाई प्रदीप का कहना है कि उसको बहुत बुरा लगता है कि उसका भाई पिछले 10 साल से एक रस्सी में बंधकर जानवरों जैसी जिंदगी जीने को मजबूर है. प्रदीप के पास उतना पैसा नहीं है कि वह अपने भाई का इलाज करा सके. वह गाय चराकर किसी तरह अपने और अपने भाई का जीवन बसर कर रहा है. शशिकान्त के पास बीपीएल कार्ड भी है, लेकिन उससे भी उसको कोई मदद नहीं मिल पा रही है. जबकि सरकार यह दावा करती है कि जिनके पास बीपीएल कार्ड हैं उन्हें सरकार मुफ्त में इलाज मुहैया करवाती है.

Goto Source & Read More : News18
10 सालों से जानवरों जैसी जिंदगी जी रहा यह शख्‍स 10 सालों से जानवरों जैसी जिंदगी जी रहा  यह शख्‍स Reviewed by Menariya India on 9:52 PM Rating: 5